Ukraine President Zelenskyy Removed Top Army General Valerii Zaluzhnyi Mid Ongoing War With Russia – Amar Ujala Hindi News Live


Ukraine President Zelenskyy removed top army general Valerii Zaluzhnyi mid ongoing war with Russia

Valerii Zaluzhnyi
– फोटो : ANI

विस्तार


यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने रूस के साथ चल रहे युद्ध के बीच यूक्रेनी सेना में बड़ा बदलाव किया है। राष्ट्रपति जेलेंस्की ने गुरुवार को सेना प्रमुख जनरल वालेरी जालुजनई (Valerii Zaluzhnyi) को पद से हटा दिया। पिछले कुछ हफ्तों से जालुजनई (50) के खिलाफ कार्रवाई की अटकलें थीं। यूक्रेन के रक्षा मंत्री रुस्तम उमेरोव ने गुरुवार को फेसबुक पोस्ट में बताया कि आज यूक्रेन के सशस्त्र बलों के नेतृत्व को बदलने का निर्णय लिया गया। युद्ध की स्थिति एक जैसी नहीं रहती। युद्ध बदलता है और इसके लिए बदलाव की जरूरत होती है।

यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने सेना प्रमुख को बदलने का फैसला ऐसे समय पर लिया है, जब रूस के खिलाफ युद्ध में यूक्रेन को कई संकटों का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ जहां रूसी सेना ने यूक्रेन के खिलाफ हमले तेज कर दिए हैं, वहीं अमेरिका की तरफ से कीव को सहायता मिलने पर अनिश्चितता के साथ यूक्रेन में नागरिक और सैन्य नेतृत्व के बीच तनाव देखने को मिल रहा है।

इससे पहले, राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में कहा था कि उन्होंने आर्मी जनरल से मुलाकात की और यूक्रेन की दो साल तक रक्षा करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि यूक्रेनी सेना और लोगों के बीच लोकप्रिय आर्मी जनरल वालेरी जालुजनई ने इस्तीफा दे दिया है या उन्हें पद से हटाया गया है।

यूक्रेन के सशस्त्र बलों में बदलाव के मुद्दे पर चर्चा

जनरल जालुजनी ने रूस के हमले बाद सफल बचाव से लेकर यूक्रेन के युद्ध प्रयासों का नेतृत्व किया। जेलेंस्की ने बयान में कहा कि उन्होंने और जनरल जालुजनी ने यूक्रेन के सशस्त्र बलों में बदलाव के मुद्दे पर चर्चा की। हमने यह भी चर्चा की कि यूक्रेनी सेना का नया प्रमुख कौन हो सकता है। उन्होंने प्रस्ताव दिया है कि जनरल जालुजनी सेना का हिस्सा बने रहें। जेलेंस्की ने आगे कहा कि हम निश्चित रूप से जीतेंगे! यूक्रेन की विजय होगी। 

पिछले हफ्ते यूक्रेन में अफवाह फैली थी कि सेना प्रमुख जनरल जालुजनी को बर्खास्त कर दिया गया है। बाद में यूक्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय को इसका खंडन करना पड़ा था। एक यूक्रेनी सांसद ने कहा कि जेलेंस्की और जालुजनी की मुलाकात 29 जनवरी को हुई थी, लेकिन देश के शीर्ष सैन्य कमांडर के भाग्य का फैसला नहीं किया गया था। कुछ यूक्रेनी अधिकारियों ने दावा किया था कि राष्ट्रपति जेलेंस्की आर्मी जनरल को बर्खास्त करने की योजना बना रही थी। 

Leave a Comment