Scholarship: 12वीं के बाद छात्रों को हजारों की स्कॉलरशिप देती है यूपी सरकार, 1.14 करोड़ स्टूडेंट्स ले सकते हैं लाभ

0
20


हाइलाइट्स

उत्तर प्रदेश सरकार ‘ मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृति योजना’ के तहत मेघावी छात्रों के की फीस, मेस और हॉस्टल का खर्चा उठाने की स्कीम लाई है.
इस स्कॉलर शिप में अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स की शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता दी जाएगी.
यूपी में स्टूडेंट्स को बेहतर एजूकेशन देने के लिए मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृति योजना की घोषणा की गईं हैं.

नई दिल्ली. Scholarship: कुछ बच्चों को किसी सहारे की जरूरत नहीं होती है, उन्हें बस खुला आसमान मिल जाता है तो ऊंची उड़ान भर लेते हैं. स्टूडेंट्स देश का आने वाला सुनहरा भविष्य होते हैं, उन्हें अगर सही प्रशिक्षण और मौका मिलता है तो वे देश का नाम रोशन कर जातें हैं, लेकिन कई बार आर्थिक स्थिति ख़राब होने से बहुत से बच्चों के सपने टूट जातें हैं. आज हम बात करेंगे यूपी सरकार की मेधावी छात्रों को मिलने वाली स्कॉलरशिप की. आइए जानते हैं कि आख़िर क्या हैं ये स्कॉलरशिप.

पढ़ाई में अव्वल रहने वाले स्टूडेंट्स के लिए खुशियों से भरा उपहार दिया है. उत्तर प्रदेश सरकार ने  ‘मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृति योजना’ के तहत मेघावी छात्रों के की फीस, मेस और हॉस्टल का खर्चा उठाने की स्कीम लाई है. इस स्कॉलरशिप में अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स की शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता दी जाएगी.

स्कॉलरशिप में मिलेंगी ये सुविधाएं

उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृति योजना के तहत अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स की पढ़ाई के साथ-साथ हॉस्टल और मेस का खर्चा राज्य सरकार उठाएगी. उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना का जिक्र अपने बजट में भी किया था. यूपी में स्टूडेंट्स को बेहतर एजूकेशन देने के लिए मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृति योजना की घोषणा की गईं हैं. इस योजना के अंतर्गत, यूपी सरकार 1.14 करोड़ स्टूडेंट्स को शिक्षा सुविधा देने का काम कर रही है.

यह भी पढ़ें:

JEE Advanced 2022 Result: जेईई एडवांस में इन 5 स्टूडेंट ने कैसे किया टॉप, जानें अब कहां लेना चाहते हैं एडमिशन

CUET UG 2022: जल्द आएगा CUET रिजल्ट, मार्किंग स्कीम समझकर निकालें अपने नंबर

उत्तर प्रदेश छात्रवृत्ति योजना का उद्देश्य

छात्रों की शिक्षा में कोइ रुकावट न आए ख़ास तौर पर अनुसूचित जाति के छात्रों में जो समाज में काफ़ी पीछे हैं. इसमें सरकार का उद्देश्य स्पष्ट है कि जो आर्थिक रूप से पिछड़े हैं उन्हें उनकी शिक्षा के माध्यम से सुरक्षित महसूस कराना और उनकी सहायता कर आगे बढ़ाना. इस सरकार का यही उद्देश्य है कि हर छात्र को शिक्षा मिल सके, आर्थिक स्थिति के कारण शिक्षा में रुकावट न आ सकें. बता दें इसके अलाव, पहले भी यूपी सरकार कई छात्रों को उनकी शिक्षा को आगे बढ़ाने में सहायक रही है.

Tags: Career Guidance, Education news, Job and career

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here