Pakistan Election Results Imran Khan Pti Protest Mqm Meet Nawaz Sharif Bilawal Bhutto 10 Big Updates – Amar Ujala Hindi News Live


pakistan election results imran khan pti protest mqm meet nawaz sharif bilawal bhutto 10 big updates

पाकिस्तान
– फोटो : ANI

विस्तार


पाकिस्तान आम चुनाव में मतदान हुए तीन दिन हो गए हैं, लेकिन अभी तक वहां अंतिम तौर पर चुनाव नतीजों का एलान नहीं हुआ है। अभी तक के नतीजों में वहां किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। ऐसे में आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की चुनौतियां आने वाले दिनों में बढ़ सकती हैं। पाकिस्तान में राजनीतिक संकट गहरा सकता है और सरकार बनाने के लिए अब वहां जोड़-तोड़ की राजनीति होगी। इस सब से पाकिस्तान की परेशानियां बढ़नी तय हैं।

पाकिस्तान चुनाव की 10 बड़ी बातें

अभी तक के नतीजों में इमरान खान की पार्टी पीटीआई समर्थित 93 उम्मीदवार जीत दर्ज कर चुके हैं। वहीं नवाज शरीफ की पीएमएल-एन को 73, बिलावल भुट्टों की पार्टी पीपीपी को 54 सीटों पर जीत मिली है। आठ सीटों पर अभी भी चुनाव नतीजे आने बाकी हैं। 

इमरान खान की पार्टी के समर्थित उम्मीदवारों की संख्या सबसे ज्यादा है, लेकिन वे अभी भी बहुमत के आंकड़े से 31 सीट कम हैं। वहीं नवाज शरीफ और बिलावल भुट्टो की पार्टियों के बीच बैठक हो रही है, लेकिन अगर दोनों मिल भी जाएंगे तो भी बहुमत के आंकड़े तक नहीं पहुंच सकेंगे। ऐसे में नवाज शरीफ की पार्टी कई निर्दलीय सांसदों के संपर्क में है। 

पाकिस्तान चुनाव आयोग ने चुनाव नतीजों में देरी की वजह बताते हुए कहा है कि सुरक्षा की दृष्टि से जो इंटरनेट पर प्रतिबंध लगाया गया था, उस वजह से नतीजों को ट्रांसमिट करने में देरी हो रही है। 

ऐसा माना जा रहा है कि नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन को पाकिस्तानी आर्मी का समर्थन हासिल है। ऐसे में नवाज शरीफ को पीएम बनाने के लिए पाकिस्तान आर्मी कोई ना कोई रास्ता निकाल ही लेगी। संभव है कि कई निर्दलीय सांसद नवाज शरीफ की पार्टी को समर्थन दे दें। तीन निर्दलीय सांसदों ने इसका एलान भी कर दिया है। 

चुनाव नतीजों से स्पष्ट है कि पाकिस्तान में इमरान खान की लोकप्रियता बरकरार है। पीटीआई बिना चुनाव चिन्ह के चुनाव मैदान में उतरी और उसके नेताओं ने निर्दलीय चुनाव लड़ा। इसके बावजूद लोगों ने उन्हें समर्थन दिया। 

पीटीआई ने चुनाव नतीजों में धांधली के गंभीर आरोप लगाए हैं। पीटीआई ने इसके खिलाफ आज लाहौर, रावलपिंडी समेत कई शहरों में सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करने का एलान किया है। 

पीटीआई के कई नेताओं ने चुनाव नतीजों में धांधली के आरोप में हाईकोर्ट का रुख किया है। माना जा रहा है कि अभी पीटीआई के कई और नेता भी कोर्ट जा सकते हैं। ऐसे में अगर कोर्ट की सुनवाई चली तो पाकिस्तान का भविष्य अधर में लटका दिख रहा है। 

नवाज शरीफ ने पीटीआई को छोड़कर अन्य पार्टियों को साथ गठबंधन करके सरकार बनाने की अपील की थी। नवाज शरीफ की अपील पर एमक्यूएम का एक प्रतिनिधिमंडल आज लाहौर में है और वे पीएमएल-एन नेतृत्व से मुलाकात कर सकता है। पीएमएल-एन और पीपीपी के बीच भी बातचीत चल रही है, लेकिन अभी तक कुछ तय नहीं हुआ है। 

पाकिस्तान में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। ऐसे में जोड़-तोड़ की राजनीति और कई नेताओं के कोर्ट जाने के चलते ऐसी आशंका है कि पाकिस्तान में सरकार के गठन में देरी हो सकती है। ऐसे में गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति और खराब हो सकती है। 

पाकिस्तान में विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू हो सकता है। पीटीआई के अलावा जमीयत उलेमा ए इस्लाम पाकिस्तान पार्टी ने भी चुनाव नतीजों में धांधली का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन का एलान किया है। 

Leave a Comment