Kisan Andolan: Roads Were Broken, Nails Were Driven On The Highway, Barbed Wire Was Laid. – Fatehabad News


Kisan Andolan: Roads were broken, nails were driven on the highway, barbed wire was laid.

फतेहाबाद के गांव हांसपुर के पास किसानों को रोकने के लिए सड़क पर लगाई गई कीलों की चादर

विस्तार


किसानों के 13 फरवरी को दिल्ली कूच को लेकर प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। किसानों को रोकने के लिए सीमेंटेड ब्लॉक लगाकर कांटेदार तार बिछाए गए हैं और सड़कों पर कीलें ठोकी गई हैं। शनिवार का पुलिस ने फतेहाबाद के जाखल, रतिया व टोहाना के साथ लगती पंजाब की सीमाओं को सील कर दिया है।

जाखल में 4 बैरियरों पर पैरामिलिट्री फोर्स के जवान तैनात किए गए हैं। टोहाना में दो स्थानों पर मार्ग को बैरिकेड्स लगाकर बंद कर दिया गया है और एनएच 148बी को जेसीबी की मदद से तोड़ दिया गया है। वहीं रतिया में ब्राह्मणवाला से रोझांवाली के पास सेम नाले पर सात लेयर के बैरिकेड्स लगाकर रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

एसपी आस्था मोदी और टोहाना के एसडीएम ने टोहाना में नाकाें का निरीक्षण भी किया। जाखल में ट्रक चालकों को निर्देश दिए गए हैं कि वह आगामी आदेशों तक चंडीगढ़, पंजाब व हरियाणा के अन्य हिस्सों में न जाएं।

डीजीपी शत्रुजीत कपूर भी जिले में व्यवस्थाओं का जायजा ले सकते हैं। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स की पांच कंपनियों आई हैं, इनमें से दो को पंजाब से लगती सीमाओं पर लगा दिया गया है औैर तीन कंपनियों को रिजर्व रखा गया है। हालांकि फतेहाबाद से दो किसान संगठनों ने इस कूच से मनाही की है, लेकिन अखिल भारतीय खेती बचाओ संघर्ष समिति ने एलान किया हुआ है कि वह दिल्ली कूच करेंगे।

पंजाब से अनेक किसान फतेहाबाद की सीमा पार करके दिल्ली की ओर कूच करेंगे इसके लिए प्रशासन ने अपनी पूरी तैयारी कर ली है। पंजाब सीमा से लगते सभी मार्गों पर सीआरपीएफ की टुकड़ियों को तैनात कर दिया गया है। फतेहाबाद के गांव हांसपुर की पंजाब की सीमा पर पुलिस ने सीमेंटेड ब्लाॅक लगाकर यहां पर कीलों की चादर बिछा दी है, ताकि अगर कोई वाहन आए तो टायर पंक्चर हो जाए। साथ ही यहां पर पुलिस का पहरा भी बढ़ा दिया गया है।

टोहाना संवाददाता के अनुसार,

किसानों संगठनों द्वारा 13 फरवरी को दिल्ली कूच की कॉल के बाद से प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड पर आ गया है। प्रशासन द्वारा किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए हिसार रोड पर एचपी पेट्रोल पंप के पास मुख्य रोड तथा मनियाना की तरफ जाने वाले रास्तों को सील कर दिया है। इसी प्रकार शहर के हिसार रोड पर टाउन पार्क के पास रोड को कंक्रीट के पत्थर व बैरिकेड्स लगाए गए हैं, ताकि किसानों को रोका जा सके। साथ ही मार्गों पर कंटेनर भी रखे गए हैं। किसानों को रोकने के लिए की गई तैयारियों का जायजा लेने के लिए एसपी फतेहाबाद आस्था मोदी, एसडीएम प्रतीक हुड्डा, डीएसपी शमशेर सिंह, सीआरपीएफ डीएसपी विनीत यादव, थाना प्रभारी बलवान सिंह की टीम लगातार निरीक्षण कर रही हैं। सीआरपीएफ की एक कंपनी के 100 कर्मचारियों सहित अलग-अलग जगहों पर लगा दी गई है।

रतिया में प्रशासन ने लगाए सात लेयर के बैरिकेड्स

बुढ़ालाडा से फतेहाबाद को आने वाले मार्ग पर पंजाब सीमा से सटे गांव ब्राह्मणवाला के आगे गांव रोझांवाली के सेम नाले के पुल पर पुलिस ने सात लेयर सीलिंग अपनाई गई है। पंजाब सीमा पर पुलिस के पहरे के बाद, बीच में लोहे के बैरिकेड्स, फिर पुलिस, फिर लोहे के बैरिकेड्स और इसके आगे सीमेंटेड ब्लॉक लगाने के बाद फतेहाबाद सीमा पर पुलिस को तैनात किया गया है। हालांकि किसानों ने मंगलवार को दिल्ली कूच करना है, लेकिन पुलिस को आशंका है कि पंजाब के इस रास्ते से किसान शनिवार रात्रि को ही कूच करने की तैयारी कर रहे हैं। शनिवार सुबह डीएसपी वीरेंद्र सिंह, सदर थानाध्यक्ष ओमप्रकाश बिश्नोई, सिटी थाना प्रभारी जय सिंह ने मौके का निरीक्षण किया।

जाखल में चार स्थानों पर पैरामिलिट्री फोर्स तैनात

13 फरवरी को किसान संगठनों द्वारा प्रस्तावित दिल्ली कूच के आह्वान को देखते हुए हरियाणा में ही किसानों को रोकने के लिए जाखल की पंजाब सीमा से लगते नाकों पर नाकाबंदी कर दी गई है। जाखल के कड़ैल बैरियर, बस स्टैंड बैरियर, बलरां रोड, कुलरियां व चांदपुरा बैरियर पर नाके लगाकर यहां पर पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है। इसके अलावा प्रशासन की ओर से ढाबा संचालकों को आदेश दिए हैं कि वह पंजाब व चंडीगढ़ रूट से हरियाणा को आने वाले ट्रकों को अपने ढाबों के आगे न रोकें। साथ ही आगामी आदेशों तक यह भी कहा गया है कि ट्रक चालक भी इन रूटों पर जाने से परहेज करें।

Leave a Comment