Churu News: कारोबारी को मिली धमकी, बदमाशों ने किया वीडियो कॉल, संपत नेहरा-लॉरेंस विश्नोई गैंग पर शक

0
20


हाइलाइट्स

चूरू के ट्रांसपोर्ट व्यवसाई को मिली जान से मारने की धमकी
गवाही दी तो शूटर भेजकर हत्या करवाने की कही बात
व्यवसाई ने सादुलपुर थाने में दर्ज करवाया मामला

चूरू. मई 2019 में राजस्थान के चूरू जिले के सादुलपुर कस्बे में पुलिस थाने से महज 300 मीटर की दूरी पर स्थित ट्रांसपोर्ट कंपनी के संचालक और बजरंगदल के प्रखंड संयोजक सुरेंद्र जड़िया उर्फ ढिल्लू की बाइक पर आए नकाबपोश बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. मृतक सुरेन्द्र जडिया के चाचा जोगेन्द्र जडिया ने पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करवाया था. हत्या के इस मामले में गवाही न देने के लिए अब ट्रांसपोर्ट व्यवसायी जोगेन्द्र जडिया को संपत नेहरा और लॉरेंस बिश्नोई  ने एक युवक के मार्फत वीडियो काॅल कर गवाही नहीं देने के लिए धमकी दी गई है. ट्रांसपोर्ट व्यवसायी जोगेन्द्र जडिया ने 22 सितंबर 2022 को राजगढ थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है.

ट्रांसपोर्ट व्यवसाई जोगेंद्र सिंह जड़िया निवासी राघा बड़ी हाल पिलानी मोड़ सादुलपुर वार्ड नंबर 14 ने रिपोर्ट दी कि 19 सितंबर को वह कलेक्टर कार्यालय गया हुआ था. उस समय परिवार के ही राधा बड़ी निवासी मिनिया का फोन आया मिंटू नेहरा उनसे मिलना चाहता है. उसने बताया कि मिंटू नेहरा की वीडियो कॉल पर संपत नेहरा और लॉरेंस बिश्नोई की बात हुई है. इसी को लेकर मिंटू नेहरा उससे मिलना चाहता है.

वीडियो कॉल के जरिए बदमाशों ने दी धमकी

19 सितंबर 2022 की शाम को 7ः 00 बजे जोगेन्द्र जडिया के घर पर मिनिया, बलवान तथा मिंटू नेहरा आए. उन्होने बताया कि पंजाब से मिंटू नेहरा के मोबाइल पर वीडियो कॉल आया तब संपत नेहरा वह लॉरेंस बिश्नोई ने बात की और कहा कि जोगेंद्र जड़िया को बोल देना कि उसके भतीजे सुरेंद्र उर्फ ढिल्लू हत्या मामले में शूटर दिनेश डागर, मनजीत उर्फ नवीन, पवन तोतला, तथा खुद संपत नेहरा के खिलाफ कोई गवाही नहीं देगा. इतना ही नहीं किसी से गवाही नहीं दिलवाएगा तथा हमारे खिलाफ इस प्रकरण में किसी प्रकार की पैरवी में कार्रवाई नहीं करेगा. अगर वह करेगा तो हमारे शूटर राजगढ़ क्षेत्र में ठहरा रखे हैं. उनके ठहरने की गाड़ियों और हथियारों की व्यवस्था कर रखी है. शुटर लगातार उसकी रेकी कर रहे हैं, इसलिये जोगेंद्र जड़िया के पास जाकर हां या ना में जवाब लेकर आओ.

ये भी पढ़ें: नागौर में संदीप बिश्नोई की हत्या के बाद पंजाब में गैंगवार की आशंका, लॉरेंस की सुरक्षा बढ़ी

साथ ही संपत और लॉरेंस की जोगेन्द्र जडिया से वीडियो कॉल पर जाकर बात करवा दें. मिंटू नेहरा से हुई बात में संपत नेहरा ने यह भी कहा है कि जोगेंद्र जड़िया हम सब पर मुकदमा दर्ज करवा देगा. तो संपत नेहरा ने कहा कि अपने पर सो डेढ़ सौ मुकदमे दर्ज हैं. वह अपना कुछ नहीं बिगाड़ सकता. रिपोर्ट में यह भी ताया गया कि लॉरेंस ने भाई को 50 लाख देकर कनाडा भिजवाया है. वह पैसे भी जोगिंदर जड़िया ही देगा. अगर वह इन बातों की मंजूरी नहीं देता है तो हम उनकी दो-चार दिन में रेकी कर मरवा देंगे. मिंटू नेहरा ने जोगेन्द्र जडिया को वीडियो कॉल पर संपत नेहरा व लारेंस बिश्नोई से बात करवाने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया. दर्ज मामले में बताया कि ट्रांसपोर्ट व्यवसायी को संपत नेहरा वे लॉरेंस बिश्नोई की गैंग से खतरा है. कुछ समय पहले इसी गैंग का सदस्य मिंटू मोडासिया गिरफ्तार हुआ था. तब उसने पुलिस पूछताछ में बताया कि राजस्थान में अगला टारगेट जोगिंदर जड़िया है. जोगेन्द्र जडिया की हत्या का काम संपत नेहरा गैंग के कपिल पंडित व सचिन भिवानी को सौंप दिया है. ट्रांसपोर्ट व्यवसायी ने बताया कि अब उसको जान से मारने की धमकी मिंटू नेहरा के मार्फत दी जा रही है. बहरहाल पुलिस ने आईपीसी की धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

Tags: Churu news, Lawrence Bishnoi, Rajasthan news



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here