सफेद अमरूद खाएं या गुलाबी? जानें दोनों के फायदे और नुकसान

0
15


हाइलाइट्स

सफेद अमरूद ब्‍लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है.
गुलाबी गूदा वाले अमरूद में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है.

Health benefits of white vs pink guava: विशेषज्ञों का कहना है कि जहां तक हो सके हमें अपने डाइट में सिजनल फलों को शामिल करना चाहिए लेकिन कई ऐसे सिजनल फल हैं जो कई वेरायटी के होते हैं और उनकी न्‍यूट्रिशनल वैल्‍यू भी अलग-अलग होती है. ऐसा ही एक मौसमी फल है अमरूद. जी हां, अमरूद के भी दो वेरायटी होती हैं, एक है सफेद और एक है गुलाबी.

ये दोनों दिखने में जितने अलग हैं, इनकी न्‍यूट्रिशनल वैल्‍यू भी उतनी ही अलग है. डाइटिशियन शिखा कुमारी ने अपने इंस्‍टाग्राम पर इन दोनों वेरायटीज़ के बीच के अंतर और सेहत को लेकर इनके फायदे के बारे जानकारी शेयर की है. आइए जानते हैं अमरूद के इन दो वेरायटीज़ के बारे में.

सफेद रंग के अमरूद के फायदे

-ब्‍लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है.
-हार्ट को हेल्‍दी रखने में सहायक.
-मासिक धर्म के दर्द को दूर करने में मददगार.
-पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा है.
-वजन घटाने में फायदेमंद है.
-कैंसर से करता है बचाव.
-रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है.
-आपकी त्वचा के लिए अच्छा है.

यह भी पढ़ेंः पुरुषों को महिलाओं की अपेक्षा कैंसर का खतरा ज्यादा, जानें वजह

गुलाबी अमरूद के फायदे

डाइटिशियन शिखा कुमारी ने अपने इंस्‍टाग्राम पर बताया कि गुलाबी अमरूद में पानी की मात्रा अधिक होती है, चीनी कम होती है, स्टार्च की मात्रा कम होती है और विटामिन सी और कम बीज या बीज रहित होता है. वहीं सफेद अमरूद में चीनी, स्टार्च, विटामिन सी और बीज ज्यादा होते हैं. सफेद गूदा वाले अमरूद में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है लेकिन लाल गूदा वाले अमरूद में इसकी मात्रा अधिक होती है.

किस कारण होता है अमरूद गुलाबी या सफेद?

उन्होंने बताया कि गुलाबी अमरूद में कैरोटीनॉयड नामक पिगमेंटेशन होता है जो गाजर और टमाटर को भी लाल रंग देता है. जबकि सफेद अमरूद में कैरोटीनॉयड के पेरीकार्प (गूदे) को रंग देने के लिए अपर्याप्त होते हैं.

यह भी पढ़ेंः मोटापे को लेकर कहीं आपके दिमाग में तो नहीं ये बड़ी गलतफहमी?

किन लोगों के लिए है नुकसानदायक
अगर आप नियमित रूप से सर्दी और खांसी से पीड़ित रहते हैं तो पके अमरूद या गुलाबी अमरूद से बचना चाहिए. जबकि अगर आप कच्‍चा अमरूद खाएं तो इससे आपको कफ की समस्‍या नहीं होगी.

कैसे खाएं?
बता दें कि विटामिन सी से भरपूर इस फल को लंबे समय तक काटकर खुले में नहीं रखना चाहिए. ऐसा करने से इसकी विटामिन सी सामग्री कम होने लगती है.

Tags: Health, Lifestyle





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here