विपक्ष को एकजुट करने की मुहिम में KCR ने दिया नीतीश कुमार को झटका! बिहार में तेज हुई सियासत

0
27


हाइलाइट्स

सीएम नीतीश कुमार देश में भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकता को मजबूत करने की कवायद में लगे हुए हैं.
केसीआर ने एक राष्ट्रीय पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है जो भाजपा और कांग्रेस विरोधी होगा.
केसीआर के कदम को लेकर अब भाजपा नीतीश कुमार पर निशाना साध रही है.

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार देश में भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकता को मजबूत करने की कवायद में लगे हुए हैं. लेकिन, उनके इस प्रयास को उसी नेता ने झटका दे दिया है जिनसे उन्होंने सबसे पहले मुलाकात कर भाजपा के खिलाफ मोर्चा बंदी की शुरुआत की थी. नीतीश को लगे इस झटके पर बिहार में सियासत भी तेज हो गई है. दरअसल कुछ दिन पहले ही पटना में बिहार के सीएम नीतीश कुमार और तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर एक साथ नज़र आ रहे थे और भाजपा को शिकस्त देने के लिए हाथ मिला रहे थे. लेकिन, अब वही केसीआर ने ही नीतीश कुमार की मुहिम को झटका दे दिया है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्यों कि केसीआर ने एक राष्ट्रीय पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है जो भाजपा और कांग्रेस विरोधी होगा.

केसीआर का यह प्रयास नीतीश कुमार के लिए झटका माना जा रहा है क्योंकि नीतीश कुमार भाजपा के ख़िलाफ़ कांग्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण मानते है और कांग्रेस को साथ लेकर चलने की तैयारी कर रहे है. उन्होंने राहुल गांधी से मुलाकात भी है, वहीं सोनिया गांधी से भी मुलाकात करने वाले हैं. लेकिन, इसी बीच केसीआर के कदम को लेकर अब भाजपा नीतीश कुमार पर निशाना साध रही है.

JDU-BJP-RJD के बीच आरोप-प्रत्यारोप दौर शुरू 

भाजपा प्रवक्ता राम सागर सिंह कहते हैं कि नीतीश कुमार से बिहार तो संभल नहीं रहा है. भाजपा के ख़िलाफ़ मोर्चा बनाने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन, इनकी ज़मीन तो बिहार में ही खिसक गई जब उनके पहले प्रयास के सहयोगी ने ही झटका दे दिया. अभी आगे-आगे देखिए क्या-क्या होता है और वो देश में प्रयास करते रहे बिहार में ही उनका गठबंधन टूट ना जाए. भाजपा के हमले पर जेडीयू भी संभल कर पलटवार कर रही है. जेडीयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा कहते हैं कि कौन क्या बोल रहा है? क्या कर रहा है? इससे कोई मतलब नहीं है. नीतीश जी अपने मुहिम में लगे हुए हैं और वह अपने मुहिम में सफल भी होंगे.

कांग्रेस ने भी पेश की दावेदारी 

वहीं राजद प्रवक्ता शक्ति यादव भाजपा पर हमलावर हैं. वह नीतीश कुमार के प्रयास के साथ मज़बूती से खड़े होने की बात कह भाजपा पर पलटवार करते हुये कहते हैं कि नीतीश जी के प्रयास से भाजपा घबरा गई है, नीतीश जी अपने प्रयास में सफल होंगे. यह बहुत जल्द भाजपा को भी पता चल जाएगा. ज़ाहिर है JDU और राजद नीतीश कुमार के प्रयास के बचाव में खड़ी दिख रही है. लेकिन, कांग्रेस के नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने साफ-साफ कहा है कि तमाम राजनीतिक पार्टियों को पूरी मज़बूती से साथ आना होगा. भाजपा के खिलाफ बिना कांग्रेस कोई भी मुहिम सफल नहीं हो सकती है. अगर भाजपा को हराना है तो कांग्रेस के साथ ही सबको आना होगा.

बहरहाल भाजपा विरोध के नाम पर एकजुट होने की क़वायद की शुरुआत बिहार से नीतीश कुमार ने तो शुरू कर दी है. लेकिन केसीआर के झटके से उनके मुहिम पर असर पड़ सकता है जिसे वो कैसे संभलते है यह देखना दिलचस्प होगा. वहीं कांग्रेस के तेवर भी नीतीश कुमार के लिए मुश्किल बढ़ा सकते हैं.

Tags: Bihar News, Chief Minister Nitish Kumar, CM KCR



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here