लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर चिट्ठी भेजी, किराना दुकानदार से 20 लाख की मांगी फिरौती, आरोपी 24 घंटे में गिरफ्तार

0
35


हाइलाइट्स

पड़ोसी से बदला लेने के लिए लॉरेंश बिश्नोई गैंग शोपू ग्रुप की आड़ में रची थी साजिश
आरोपी से रंगदारी की इबारत लिखे पंपलेट बरामद, भेजा गया जेल

सुमित भारद्वाज

पानीपत. गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने की वारदात का पुलिस ने महज 24 घंटे में खुलासा कर दिया है. विद्यानंद कालोनी निवासी आरोपी गौतम ने सोशल मीडिया पर रंगदारी की खबर को देखकर पड़ोसी सुंदर से रंगदारी मांगने की घटना को अंजाम दिया था. आरोपी ने लड़ाई झगड़े की रंजिश रखते हुए परेशान करने व शार्टकट तरीके से पैसे कमाने की मंशा से चिट्ठी डालकर रंगदारी मांगने की वारदात को अंजाम दिया.

पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने बताया कि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर विद्यानंद कॉलोनी निवासी किराना दुकान संचालक सुंदर से 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने की वारदात का 24 घंटे के दौरान ही खुलासा किया गया है. सीआईए थ्री पुलिस की टीम ने आरोपी को पकड़ लिया है. आरोपी की पहचान गौतम पुत्र गंगाराम निवासी विद्यानंद कॉलोनी पानीपत के रूप में हुई है.

पुलिस ने किया पूरे मामले का खुलासा
पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने बताया थाना चांदनी बाग पुलिस ने वीरवार को रंगदारी मांगने की वारदात के संबंध में शिकायत मिलते ही मुकदमा दर्ज कर लिया था. तुरंत सीआईए थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अंकित व उनकी टीम को जल्द से जल्द आरोपियों की पहचान कर पकड़ने के विशेष निर्देश दिए थे. सीआईए थ्री की टीम ने विभिन्न पहलुओं पर गहनता से छानबीन करते हुए शुक्रवार सांय विद्यानंद  कॉलोनी निवासी गौतम पुत्र गंगाराम को सनौली रोड पर मार्बल मार्केट के पास से शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने फिरौती मांगने की उक्त वारदात को अंजाम देने की बात स्वीकार की. आरोपी गौतम मामले में पीड़ित सुंदर का पड़ोसी है और उसने विद्यानद कालोनी में ही मोबाइल रिपेयरिंग व ऐसेसरीज की दुकान खोली है.

सोशल मीडिया से सीखा रंगदारी का तरीका, फिर मांगी फिरौती
प्रारंभिक पुछताछ में आरोपी से खुलासा हुआ उसका करीब 4 महीने पहले सुंदर के साथ किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था. उस समय दोनों पक्षों ने लड़ाई झगड़े के संबंध में थाना चांदनी बाग में शिकायत दी और बाद में पंचायती तौर पर राजीनाम कर लिया था. आरोपी गौतम इसके बाद सुंदर से रंजिश रखने लगा. करीब 7-8 दिन पहले आरोपी गौतम ने पानीपत सब्जी मंडी के एक दुकानदार से चिट्ठी डालकर गैंगस्टर के नाम पर 3 करोड़ रुपये रंगदारी मांगने के संबंध में सोशल मीडिया पर खबर को देखा था.

लॉरेंश बिश्नोई गैंग शोपू ग्रुप की आड़ में रची थी साजिश
आरोपी ने पड़ोसी सुंदर से बदला लेने के लिए शातिराना दिमाग से प्लान तैयार कर गैंगस्टर लॉरेंश बिश्नोई गैंग शोपू ग्रुप चंडीगढ़ के नाम से पंपलेट व मोहर बनवाकर एक पंपलेट सफेद रंग के लिफाफे में पैक कर उसके बाहर मोहर लगा 4 अगस्त को सुंदर की दुकान पर सामान लेने के बहाने गया. दुकान पर सुंदर का ससुर महावीर बैठा हुआ था. आरोपी चुपके से ब्रेड के पैकेट में चिट्ठी को रखकर अपने घर आ गया. आरोपी ने चिट्ठी में 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने के साथ लिखा था कि पैसे नहीं दिये या पुलिस को शिकायत दी तो लड़के सहित पूरे परिवार को जान से मार देगा.

आरोपी से रंगदारी की इबारत लिखे पंपलेट बरामद, भेजा गया जेल
गिरफ्तार आरोपी गौतम की निशानदेही पर उसके घर से 90 पंपलेट व एक मुहर बरामद कर पुलिस टीम ने गहनता से पूछताछ करने के बाद आरोपी को न्यायालय में पेश किया. यहां से आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है.

Tags: Haryana news, Lawrence Bishnoi, Panipat crime news



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here