लगातार कब्ज बनी रहने से भी बढ़ सकता है कोलेस्ट्रॉल ! इन वजहों से भी हो सकती है दिल की बीमारी

0
20


हाइलाइट्स

बिगड़ी लाइफस्टाइल और खराब खानपान से बढ़ता है कोलेस्ट्रॉल.
रेगुलर एक्सरसाइज़, हेल्दी डाइट से कोलेस्ट्रॉल घटा सकते हैं.

High Cholesterol Reasons: दिल की सेहत को लेकर ज्यादातर लोग काफी फिक्रमंद होते हैं. बीते कुछ वक्त में तेजी से बदली लाइफस्टाइल ने सबसे ज्यादा असर हार्ट हेल्थ पर ही डाला है. कम उम्र में ही लोग अब हाई कोलेक्ट्रॉल से पीड़ित हो चुके हैं. हाई कोलेस्ट्रॉल से हार्ट अटैक, स्ट्रोक जैसी जानलेवा स्थितियां भी पैदा हो जाती है. कई बार छोटी-छोटी चीजों को लेकर लापरवाही करने से भी शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल तेजी से बढ़ जाता है. शरीर में फाइबर की मात्रा कम होना भी एक वजह हो सकती है.
ज्यादा तेल और मसालेदार खानपान होने के अलावा नियमित एक्सरसाइज न करना भी शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को तेजी से बढ़ाता है. लिवरडॉक्टरडॉटकॉम के अनुसार शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की वजह अनहेल्दी खानपान के अलावा ज्यादा मात्रा में कार्बोहाइट्रेड लेना भी हो सकता है. वहीं हेल्थलाइन के मुताबिक साइलियम फाइबर टोटल कोलेस्ट्रॉल को घटाने में मददगार हो सकता है.

हाई कोलेस्ट्रॉल की ये हैं वजह

खानपान – दिल की सेहत का मामला सीधे हमारे खानपान से जु़ड़ा होता है. हालांकि खानपान की खराब आदतों से बढ़ने वाले कोलेस्ट्रॉल को हम इसमें बदलाव कर बहुत हद तक कम कर सकते हैं. हमारे खाने में ज्यादा मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और ट्रांस फैट का होना दिल के लिए नुकसानदायक होता है. ये ही दिल संबंधी बीमारियों का कारण भी बनता है.

इसे भी पढ़ें: दिल कमज़ोर हो रहा है तो महसूस होने लगते हैं ये लक्षण, जानें कब डॉक्टर की लेना चाहिए सलाह

कार्बोहाइड्रेट – बदली हुई लाइफस्टाइल में हमारा खानपान भी काफी बदल चुका है. अब ज्यादातर लोग काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन करते हैं. ये हमें अनाज, चीनी, स्टार्च आदि से मिलता है. कार्बोहाइड्रेट फूड्स जल्दी और आसानी से बन जाते हैं. शरीर में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बढ़ने पर कोलेस्ट्रॉल लेवल हाई होने का खतरा बढ़ता है.

इसे भी पढ़ें: राजू श्रीवास्तव ने हार्ट अटैक से 3 दिन पहले मिली फैमिली डॉक्टर की सलाह की थी नज़रअंदाज़, आप न करें ऐसी गलतियां

फाइबर – हमारा शरीर बॉवेल मूवमेंट के जरिये अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को निकालने का काम करता है. लिवर अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को निकालकर गाल ब्लैडर में स्टोर कर देता है. इसके बाद यह आंतों के सहारे आगे बढ़ता है. अगर हमारे खाने में पर्याप्त मात्रा में फाइबर नहीं हो, हम पर्याप्त पानी नहीं पिएं तो ये कब्ज की वजह बन जाता है. इससे पित्त में जमा कोलेस्ट्रॉल दोबारा हमारें ब्लड स्ट्रीम में रिएब्जॉर्ब हो जाता है और इससे कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ सकता है. इसलिए ये जरूरी है कि हमारे शरीर में कब्ज न रहे.


स्ट्रेस –
तनाव भी दिल संबंधी बीमारियों को बढ़ाने का काम करता है. इसके अलावा एक्सरसाइज न करना और सिगरेट, शराब जैसा नशा करना भी हाई कोलेक्ट्रॉल और दिल संबंधी बीमारियों के पैदा होने की वजह हो सकता है.

Tags: Health, Lifestyle



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here