ताजमहल के अंदर उत्पात मचा रहे बंदर, दो दिनों में दो विदेशी पर्यटकों पर हमला कर किया जख्मी

0
18


हाइलाइट्स

सोमवार को स्वीडन की पर्यटक व्योनक ड्रेसलर को ताजमहल के मेहमानखाने के पास बंदरों ने घायल कर दिया.
इससे पहले रविवार को तमिलनाडु के नीलगिरी से ताजमहल आए शाहीन रशीद को भी बंदरों ने नोंच लिया था.

रिपोर्ट: हरीकांत शर्मा

आगरा. देश-विदेश से सैकड़ों पर्यटक हर दिन ताजमहल का दीदार करने आते हैं. लेकिन इन दिनों ताजमहल परिसर बहुत सुरक्षित नहीं रह गया है. यहां परिसर में बंदरों का आतंक है. बीते दो दिनों में बंदरों के हमले के दो मामले सामने आ चुके हैं. सोमवार को स्वीडन की पर्यटक व्योनक ड्रेसलर जब ताजमहल के मेहमानखाने के पास पहुंचीं, तब बंदरों ने उन पर हमला कर घायल कर दिया था. इससे पहले रविवार को तमिलनाडु के नीलगिरी से आए शाहीन रशीद को भी बंदरों ने नोंच लिया था. इससे पहले भी ताजमहल परिसर में पर्यटकों पर बंदरों के हमले के कई मामले सामने आए हैं.

इस स्थिति के बाद ASI ने ताजमहल परिसर में बंदरों से सावधान रहने के बोर्ड तो लगा दिए हैं. लेकिन पर्यटकों की सुरक्षा के लिए कोई उपाय नहीं किया गया. कोई भी विभाग बंदरों से पर्यटकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी को लेने के लिए तैयार नहीं है. इस मामले में न तो नगर निगम कोई ठोस फैसला ले रहा और न ही ASI पर्यटकों के बचाव का कोई उपाय कर रहा.

खाने की तलाश में आते हैं बंदर

खाने की तलाश में बंदर ताजमहल के पूर्वी गेट की तरफ से बने हाथी घाट की दीवारों से होकर ताजमहल परिसर में प्रवेश करते हैं. कई बार पर्यटकों के हाथ से कीमती सामान जैसे मोबाइल, पर्स, खाने-पीने की चीजें छीन कर भाग जाते हैं. हालांकि शहर में बंदरों को रोकने का काम वन विभाग और नगर निगम का है. लेकिन दोनों ही विभाग इस समस्या को लेकर कोई भी प्रयास नहीं कर रहे हैं.

Tags: Agra news, Monkeys problem, Taj mahal, UP news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here