जयपुर दिव्यांश अपहरण केस: 3 दिन बाद भी मासूम का कोई सुराग नहीं, सूचना देने वाले को मिलेगा इनाम

0
17


हाइलाइट्स

4 महीने के दिव्यांश का अब तक कोई सुराग नहीं
डीसीपी ने की बच्चे या अपहरणकर्ता की सूचना देने वाले को इनाम देने की घोषणा
जयपुर में करीब 150 पुलिसकर्मियों की टीम है तलाश में जुटी

जयपुर. राजस्थान के जयपुर में प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल से अपहृत हुए 4 महीने के दिव्यांश का तीसरे दिन भी सुराग नहीं लग सका है. बुधवार शाम को 5 बजे हुई मासूम बच्चे के अपहरण की वारदात को 48 घंटे से ज्यादा का वक्त बीत गया है. जयपुर पुलिस ने पूरी ताकत झोंक दी है, लेकिन सीसीटीवी फुटेज में अपहरणकर्ता के हुलिए के अलावा पुलिस को कुछ भी सुराग नहीं लगा है. यहां तक कि शुक्रवार शाम 5 बजे तक सीसीटीवी में नजर आए बदमाश की पहचान भी पुलिस नहीं कर सकी है.

वारदात के तीसरे दिन डीसीपी ईस्ट डॉ. राजीव पचार ने अपहृत बालक दिव्यांश या फिर उसका अपहरण करने वाले बदमाश के बारे में जानकारी देने वाले व्यक्ति को उचित इनाम देने की घोषणा की है. जयपुर के करीब 150 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की स्पेशल टीम इस वारदात के खुलासे में लगी है जिसमें मुखबिर, सीसीटीवी फुटेज और तकनीकी अनुसंधान पर पुलिस काम कर रही है. लेकिन 48 घंटे बाद भी पुलिस को बच्चे और बदमाश के बारे में कुछ खबर नहीं लगी है.

वहीं, ज्यों ज्यों वक्त बीत रहा है जयपुर पुलिस की मुश्किलें बढ़ रही हैं. वहीं, परिजनों का धैर्य भी टूटता नजर आ रहा है. मासूम दिव्यांश की मां और दादी का रो रोकर बुरा हाल है. परिजन अब भगवान के मंदिरों में ढोक लगाकर मन्नत मांग रहे है ताकि किसी भी सूरत में उनका मासूम बच्चा सकुशल मिल जाए.

वहीं, इस गैंग को प्रोफेशनल माना जा रहा है. इस गैंग में महिला के होने का अंदेशा भी शामिल है, क्योंकि 4 महीने के बच्चे को संभालना अकेले अपहरणकर्ता का काम नहीं है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : August 06, 2022, 10:42 IST



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here