ऊना: डाकघर में आरडी एजेंट के बैग से 1 लाख उड़ाए, चोरी करते महिलाओं के चेहरे सीसीटीवी में कैद

0
33


हाइलाइट्स

आरडी कलेक्शन की रकम जमा कराने पहुंची थी रेगुलर डिपॉजिट एजेंट प्रेमलता
चोरी के मामले में दो संदिग्ध महिलाओं का हाथ, पुलिस जांच में जुटी

ऊना. जिला मुख्यालय के मुख्य डाकघर में बुधवार को दिनदहाड़े एक लाख रुपए की चोरी होने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. डाक विभाग की रेगुलर डिपॉजिट एजेंट महिला डाकघर में ही शातिर महिलाओं का शिकार बन गई. वहीं मामले की जानकारी पुलिस को भी दी गई है, जिसके बाद पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है.

इस मामले के सामने आने पर पुलिस एक्शन में आ गई है. वारदात को अंजाम देने वाली दो संदिग्ध महिलाओं की तलाश के लिए पुलिस द्वारा नाकाबंदी की गई है. वहीं दूसरी तरफ सीसीटीवी फुटेज खंगालने का काम भी शुरू कर दिया गया है. चोरी की वारदात को अंजाम देने वाली शातिर महिलाओं के चेहरे सीसीटीवी में कैद हो गए हैं.

चोरी के मामले में दो संदिग्ध महिलाओं का हाथ, पुलिस जांच में जुटी
जानकारी के मुताबिक जिला मुख्यालय के मुख्य डाकघर में डाक विभाग की ही रेगुलर डिपॉजिट एजेंट महिला के बैग से एक लाख रुपए की राशि चोरी कर ली गई. वारदात को अंजाम देने के पीछे दो संदिग्ध महिलाओं का हाथ बताया जा रहा है. वहीं इस घटना के बाद डाक विभाग की रेगुलर डिपॉजिट एजेंट प्रेमलता ओहरी सदमे में आ गईं.

आरडी कलेक्शन की रकम जमा कराने पहुंची थी रेगुलर डिपॉजिट एजेंट प्रेमलता

पीड़ित रेगुलर डिपॉजिट एजेंट प्रेमलता ने बताया कि वह ग्राहकों से आरडी के रूप में ली गई करीब 1.85 लाख रुपये से अधिक राशि को डाकघर में जमा करवाने पहुंची थी. इसी दौरान डाकघर में ही किसी ने उनके थैले को ब्लेड लगाकर चुपके से 500-500 रुपये के नोटों की 2 गड्डियां निकाल लीं. मामला सामने आने पर फौरन डाकघर में लगे सीसीटीवी की फुटेज को खंगाला गया.

जिसमें पीड़ित महिला के आसपास दो अन्य महिलाओं की गतिविधियां संदिग्ध पाई गईं, जबकि वे दोनों महिलाएं घटना के बाद से ही मौके से भी फरार बताई गई हैं. प्रेमलता ने बताया कि उसके पास कुल राशि में से करीब 85 हजार रुपए सुरक्षित बचे हैं. उधर डाक विभाग के डाकपाल पवन कुमार का कहना है कि रेगुलर डिपॉजिट एजेंट प्रेमलता ओहरी ने एक लाख रुपये चोरी होने के संबंध में शिकायत की है, जिसके बाद सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली गई. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी गई है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : August 10, 2022, 19:50 IST



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here