अखिलेश यादव ने कहा- RSS की पॉलिटिकल पार्टी है भाजपा, तिरंगा यात्रा में होते हैं दंगे

0
34


हाइलाइट्स

अखिलेश ने कहा, जनेश्वर मिश्र जी ने हर वर्ग के लिए जीवन भर संघर्ष किया.
15 हजार करोड़ की लागत से बने बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की EDऔर CBI से जांच हो.

लखनऊ. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने शुक्रवार को जनेश्वर मिश्र की जयंती पर नमन किया. छोटे लोहिया के नाम से पहचाने जाने वाले जनेश्वर मिश्र की जयंती पर लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया. अखिलेश ने कहा कि आज हम सब जनेश्वर मिश्र जी को नमन करते हैं. उन्होंने हर वर्ग के लिए जीवन भर संघर्ष किया और आज उनके ही आदर्शों पर सपा चल रही है. जब जनेश्वर मिश्र जी सदन में बोलते थे, तब सदन में पिन ड्रॉप साइलेंस रहता था.

इस मौके पर अखिलेश यादव ने मीडिया से बातचीत के दौरान बीजेपी पर भी प्रहार किया. बाहुबली बृजेश सिंह की रिहाई पर उनका कहना था कि बनारस के लोग बताते थे कि सरकार के लोग 3.3 घंटे जेल में बैठते थे. खैर, आज कोर्ट ने जो फैसला दिया है, वो हम सबको मानना पड़ेगा. वहीं, ’हर घर तिरंगा’ अभियान पर उनका कहना था, पूरे देश को यह बात समझनी चाहिए कि आरएसएस (RSS) की कोई पॉलीटिकल पार्टी है तो वह भारतीय जनता पार्टी है. आरएसएस के लोगों ने वर्षों तक झंडा नहीं लगाया. बीजेपी के लोग हमेशा बांटने की राजनीति करते हैं.

तिरंगा यात्रा में हो सकते हैं दंगे
बीजेपी की तिरंगा यात्रा पर अखिलेश ने कहा, बीजेपी तिरंगा यात्रा के साथ दंगा भी करवा सकती है. पिछली बार कासगंज में तिरंगा यात्रा में दंगा हुआ था. कासगंज में भारतीय जनता पार्टी ने ही हिंदू मुसलमान के नाम पर दंगा कराया था. हम समाजवादियों ने सबसे ऊंचा झंडा लगवाया था. मंहगाई पर उन्होंने एक बार फिर भाजपा को घेरा. उनका कहना था कि महंगाई कम करने के लिए सरकार ने क्या किया? 22 करोड़ लोगों ने फॉर्म भरे और सिर्फ लाख लोगों को नौकरी मिली. यूपी में जो छात्र अग्निवीरों का फॉर्म भरने जा रहे हैं, उनमें से कितनों को नौकरी मिलेगी 1000 या 2000 लोगों को?

भाजपा के पास नहीं सूझबूझ
विधानपरिषद में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी कीर्ति कोल का परचा रद्द होने पर अखिलेश यादव ने कहा कि इसमें हमारे ऑफिस की बड़ी गलती रही. प्रदेश के विकास पर अखिलेश ने कहा, बीजेपी के पास सूझबूझ नहीं है कि 1 ट्रिलियन इकोनॉमी कर के दिखा दें. जिस प्रदेश में सबसे ज्यादा डिजिटल फ्रॉड होते हैं, जहां सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ होती हो, वहां इन्वेस्टमेंट कैसे आएगा? इन्वेस्टमेंट के नाम पर भाजपा हिंदू मुसलमान कराती है.

लुलु मॉल के लिए हमने किया इन्वेस्टमेंट
लुलु मॉल का जो इन्वेस्टमेंट है, वह समाजवादी पार्टी के दौर का इन्वेस्टमेंट था. यह भाजपा का नहीं था. बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के उद्घाटन के अगले दिन एक्सप्रेस वे के बंद होने पर अखिलेश ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस दिन एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया, उसी के अगले दिन बारिश के कारण एक हिस्सा धंस गया. एक्सप्रेस वे को अगले ही दिन बंद करना पड़ा लेकिन क्या भाजपा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की ईडी और सीबीआई से जांच कराएगी? 15 हजार करोड़ की लागत से बने बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की ईडी और सीबीआई से जांच होनी चाहिए.

Tags: Akhilesh yadav, BJP, Lucknow news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here